Quantcast

Osho Osho On Topics अस्तित्व

अस्तित्व

घास के छोटे से पत्ते से लेकर विशालतम तारे तक, हर चीज की जरूरत है, समान रूप से जरूरत है। अस्तित्व में किसी तरह की ऊंच-नीच नहीं है। घास के पत्ते और तारे में कोई असामनता नहीं है; वे समान हैं। अस्तित्व उन्हें समानरूप से सहारा देता है। वह किसी तरह का भेदभाव नहीं करता। पापी के साथ, संत के साथ समानरूप से। सूर्य सभी के लिए चमकता है, फूल सभी के लिए खिलते हैं, पक्षी सभी के लिए गाते हैं। यह हमारा घर है।

बिना आनंद के अहसास के इसे महसूस नहीं किया जा सकता। इसलिए यहां मेरा सारा प्रयास यह है कि तुम्हें प्रफुल्लित, आनंदित, गाते और नाचते, सभी तरह के उपाय उपलब्ध करवाए जाएं ताकि तुम विश्रांत हो सको, तुम अपनी संस्कारित उदासी, गंभीरता से बाहर आ सको, ताकि तुम फिर से बच्चे बन सको, समुद्र किनारे दौड़ते सींपियां, रगीन पत्थर इकट्ठा करते, तितलियों के पीछे दौड़ते, जंगली फूलों को महान आश्चर्य के साथ इकट्ठा करते हुए।