मैं मृत्‍यु सिखाता हूं
अपने माहिं टटोल
ज्यों की त्यों धरि दीन्हीं चदरिया
असंभव क्रांति
सत्य की खोज
बिन बाती बिन तेल

On This Page

 

Email this page to your friend